Bhavat ke Shabd roop भावत् के शब्द रूप

भावत् के शब्द रूप

यह (भवत्) एक तकारान्त सर्वनाम शब्द है ।
भावत् शब्द के शब्द रूप पुल्लिंग व स्त्रीलिंग दोनों लिंगों में रहते हैं । आज हम भावत् शब्द के पुलिंग और स्त्रीलिंग के शब्द का अध्ययन करेंगे। यह शब्द रूप अकारान्त, इकारान्त, इकारान्त और उकारान्त एकान्त शब्द से काफी भिन्न है अत: इसका अध्ययन ध्यानपूर्वक करना चाहिए |

भवत् पुलिंग शब्द रूप, संस्कृत में भवत् (पुलिंग) शब्द रूप

विशेष :- भवत् एक सर्वनाम शब्द है अत: भवत् शब्द के शब्द रूप में सात विभक्तियाँ ही होती हैं । सर्वनाम शब्द सिद्धांत में नहीं होता है ।


भवत् पुल्लिंग शब्द रूप

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमाभवनभवनौभवंतः
द्वितीया
भवन्तम्

भवनौ

भवत:
तृतीयाभवत
भवद्भ्यम्
भवद्भिः
चतुर्थीभवते
भवद्भ्यम्
भवद्भ्यः
पञ्चमीभवतः
भवद्भ्यम्
भवद्भ्यः
षष्ठीभवतःभवतो:
भवताम्
सप्तमी
भवति
भवतो:भवत्सु

भवत् स्त्रीलिंग शब्द रूप

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमा भवतीभवत्यौभवति:
द्वितीया
भवतिम्

भवत्यौ


भवती:
तृतीयाभवत्या
भवतिभ्यम्
भवतिभि:
चतुर्थीभवत्यै
भवतिभ्यम्
भवतीभ्यः
पञ्चमीभाव्या:
भवतिभ्यम्
भवतीभ्यः
षष्ठीभाव्याः
भवत्योः
भवतिनाम्
सप्तमीभावत्याम्भवत्यो:भवतिषु

इन शब्द सैद्धांतिक में से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं तथा हिन्दी से संस्कृत में अनुवाद भी भवत् शब्द सैद्धांतिक का प्रयोग होता है । उदाहरण के तौर पर कुछ प्रश्न आपके सामने प्रस्तुत कर रहा हूँ ।

अनुवाद

  1. आप कहाँ जायेंगे ?
    भवान् कुत्र गच्छति ?

इस उदाहरण में ‘आप’ शब्द के लिए भावत् शब्द का
प्रयोग किया गया है ।

  1. आप खाना पकाते हैं ।
    भवति भोजनं पचति ।
  2. आप सभी उद्यान में हो ।
    भवन्त: उद्याने भ्रमन्ति |
  3. मैं आपकी किताब के लिए हूं ।
    अहं भवते/भवत्यै पुस्तकं अनायामि |

इस वाक्य में भवते (खींचना ) भवत्यै (स्त्रीलिंग) का सर्वनाम शब्द है |

कृत्तिसंशोधन से संबंधित प्रश्न

  1. “भवते” में विभक्ति का प्रयोग कौन सा है?
    (अ) सप्तमी
    (बी) द्वितीया
    (स) चतुर्थी
    (द) तृतीया
  2. “भवत्” शब्द के सप्तमी एकवचन का रूप क्या होगा?
    (अ) भवति
    (बी) भवन
    (स) भवती
    (द) भवत:
  3. भवत्” शब्द के स्त्रीलिंग षष्ठी बहुवचन का रूप क्या होगा?
    (अ)भवतिनाम्
    (बी) भवतिषु
    (स) भवताम्
    (द) भवतो:
  4. भवती: ” में कौनसा वचन है?
    (अ) षष्ठी बहुवचन
    (बी) प्रथम बहुवचन
    (स) द्वितीया बहुवचन
    (द) प्रथम द्विवचन

Leave a Comment