kavi ke Shabd Roopकवि (इकारान्त पुल्लिंग) शब्द रूप

kavi ke Shabd Roop
कवि के शब्द रूप-


“कवि” एक ‘इकारान्त पुल्लिंग’ शब्द है | आज हम “कवि शब्द रूप ” के बारे में इस लेख में पढ़ेंगे | इस साइट में kavi ke shabd roop मैंने कवि शब्द रूप और इससे सम्बन्धित पूछे जाने वाले प्रश्नों इत्यादि के बारे में विस्तारपूर्वक बताने का प्रयास किया है ।

विशेष – सभी ‘इकारान्त पुल्लिंग’ संज्ञा के शब्द रूप “कवि” शब्द रूप के समान ही बनते है ।

इकारान्त पुल्लिंग के शब्द कौन-कौन से होते है ?

कपि, गिरि, मुनि, रवि, पाणि, हरि, भूपति,अग्नि (fire), अतिथि (guest), रश्मि, राशि, तिथि, जलधि, विधि, अरि, ऋषि, इत्यादि ।

इन सभी शब्दों के भी शब्द रूप ” कवि” शब्द रूप की तरह ही बनेंगे, क्योंकि ये सभी शब्द ‘इकारान्त पुल्लिंग’ शब्द हैं |

इकारान्त पुल्लिंग शब्द किसे कहते है ?

वह संज्ञावाचक मूल शब्द जिसका उच्चारण / शब्द के अंत में ( ह्रस्व / लघु) “इ” स्वर की ध्वनि / “इ” स्वर हो उसे ‘इकारान्त पुल्लिंग’ शब्द कहते हैं ।


कवि (इकारान्त पुल्लिंग) शब्द रूप

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमाकवि:कवीकवयः
द्वितीया

कविम्

कवी

कवीन्
तृतीयाकविना
कविभ्याम्
कविभिः
चतुर्थी कवये
कविभ्याम्
कविभ्यः
पञ्चमीकवेः
कविभ्याम्
कविभ्यः
षष्ठीकवेः
कव्योः
कवीनाम्
सप्तमीकवौ
कव्योः
कविषु
सम्बोधनहे कवे ! हेहे कवी !हे कवयः !

कवि शब्द के रूप

अधिकांशतया 8, 9,10 कक्षा के विद्यार्थियों को इकारान्त kavi ke Shabd Roop (कवि शब्द के अनुसार ) के बारे में कक्षा व परीक्षाओं में पूछा जाता है | इसलिए विद्यार्थियों की सहायता के लिए इकारान्त पुल्लिंग “कवि” के शब्द रूप लिखे है ।

शब्द रूप से सम्बन्धित प्रश्न—

1.कवि’ शब्द का द्वितीया विभक्ति का द्विवचन क्या होगा ?

उत्तर – कवी | प्रथमा व द्वितीया विभक्ति में एक समान होता है ।

2.’कवि’ शब्द का तृतीया विभक्ति का बहुवचन क्या होगा ?


उत्तर – कविभिः |


4 ‘हरि’ शब्द का षष्ठी विभक्ति का बहुवचन क्या होगा ?


उत्तर – हरीणाम् | इसके शब्द रूप “कवि” के समान ही बनते है ।

5. ‘मुनि’ तृतीया विभक्ति का एकवचन क्या होगा ?

उत्तर – मुनिना । इसके शब्द रूप ” कवि” के समान ही बनते है ।
6‘.हरि’ शब्द का सप्तमी विभक्ति का द्विवचन क्या होगा ?

उत्तर – हर्यो: । षष्ठी व सप्तमी विभक्ति में एकसमान होता है ।
7.’कवि’ शब्द का सप्तमी विभक्ति का एकवचन क्या होगा ?

उत्तर – कवौ ।

8.’हरि’ शब्द का तृतीया विभक्ति का एकवचन क्या होगा ?

उत्तर – हरिणा ।

Leave a Comment