Samas ki Paribhasha & Prakar समास संस्कृत व हिन्दी में

Samas ki Paribhasha v Prakar समास की परिभाषा व प्रकार

समास की परिभाषा व प्रकार :- समास शब्द “सम्” उपसर्ग पूर्वक “अस्” धातु से बना है । इसका अर्थ होता है :- संक्षेप | अर्थात् समास की परिभाषा होती है – दो या दो से अधिक शब्दों के मेल से उत्पन्न विकार को समास कहते है ।

समास के प्रकार

समास मुख्य रूप से 5 प्रकार के होते है । कर्मधारय और द्विगु समास तत्पुरुष समास के ही उपभेद है ।

  1. केवल समास
  2. अव्ययीभाव समास
  3. तत्पुरुष समास
  4. द्वन्द्व समास
  5. बहुव्रीहि समास


कर्मधारय और द्विगु समास तत्पुरुष समास के ही उपभेद है।
1.कर्मधारय समास
2.द्विगु समास


Samas ki Paribhasha v Prakar
समास के प्रकार

जिस समास को कोई विशेष नाम न दिया गया हो उसे केवल समास कहते है । यह समास का पहला प्रकार / भेद है ।

उदाहरण :- भूतपूर्वः = पूर्वं भूत:

जिस समास में पूर्व पद की प्रधानता हो उसे अव्ययीभाव समास कहते है | यदि प्रथम पद अव्यय / उपसर्ग हो तो उसे भी अव्ययीभाव समास कहते है ।

अध्यात्मम् = आत्मनि
उपकृष्णम् = कृष्णस्य समीपे
निर्मक्षिकम् = मक्षिकाणाम् आभावः

जिस समास में उत्तर पद द्वितीय पद की प्रधानता होती है उसे तत्पुरुष समास कहते है । तत्पुरुष समास में प्रथम पद संज्ञा/ विशेषण होता है, लिंग व वचन का निर्धारण द्वितीय पद के अनुसार होता है ।

नरकपतितः = नरकं पतित:

हरि-त्रातः=हरिणा त्रात:

युद्धनिपुण: = युद्धे निपुणः

जिस समास में दोनों पदो की प्रधानता होती है उसे कर्मधारय समास कहते है । अर्थात् जिसमें दोनों शब्दों का समानाधिकरण हो ऐसा तत्पुरुष समास समानाधिकरण तत्पुरुष ,”कर्मधारय” समास कहलाता है ।

नीलोत्पलम् = नीलम् उत्पलम्
घनश्यामः = घन: इव श्याम:
महात्मा = महान् च असौ आत्मा

जिस समास में पूर्व पद ”पहला पद” सख्या वाचक और दूसरा पद संज्ञा वाचक हो तो उसे द्विगु समास कहते है ।

त्रिलोकी = त्रयाणां लोकानां समाहारः
पंचवटी = पंचानाम् वटानाम् समाहारः

जहाँ पर दो या दो से अधिक शब्दों का इस प्रकार समास हो जिसमे “च” और का अर्थ छिपा हो तो उसे द्वंद्व समास कहते है|

अर्थधार्मौ = अर्थश्च धर्मश्च (अर्थ: च धर्मः च)
पितरौ = माता च पिता च

जिस समास में अन्य पद की प्रधानता होती है उसे बहुव्रीहि समास कहते है ।

चन्द्रशेखरः = चन्द्रः शेखरे यस्य सः
दशाननः = दश आननानि

जानकारी हेतु नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें

Leave a Comment