Sambandh Vachak Sarvanam संबंधवाचक सर्वनाम : हिन्दी व्याकरण

संबंधवाचक सर्वनाम


वह सर्वनाम शब्द जो किसी वाक्य में प्रयुक्त संज्ञा अथवा सर्वनाम के संबंध का बोध कराएं उसे संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं जैसे- ‘जो’, ‘सो’, ‘उसी’ आदि।
अथवा
जो सर्वनाम किसी दूसरी संज्ञा या सर्वनाम से संबंध दिखाने के लिए प्रयुक्त हो, उसे संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं। जैसे- जो करेगा सो भरेगा।

इस वाक्य में जो शब्द संबंधवाचक सर्वनाम है और सो शब्द नित्य संबंधी सर्वनाम है। अधिकतर सो लिए वह सर्वनाम का प्रयोग होता है।
प्रयोग की दृष्टि से सर्वनाम के 6 प्रकार हैं। अर्थात सर्वनाम के 6 भेद होते हैं। जो इस प्रकार हैं-

  1. पुरुषवाचक सर्वनाम,
  2. निश्चयवाचक सर्वनाम
  3. अनिश्चयवाचक सर्वनाम,
  4. संबंधवाचक सर्वनाम,
  5. प्रश्नवाचक सर्वनाम,
  6. निजवाचक सर्वनाम।

संबंधवाचक सर्वनाम के उदाहरण

  • जो कर्म करेगा फल उसीको मिलेगा।
  • जिसकी लाठी उसकी भैंस |
  • जैसा कर्म वैसा फल l

जो’, ‘उसे’, ‘जिसकी’, ‘उसकी’, ‘जैसा’, ‘वैसा’ इन सार्वनामिक शब्दों में परस्पर संबंध की प्रतीति हो रही है। ऐसे शब्द संबंधवाचक कहलाते हैं।


Leave a Comment