Sanskrit me Prashn Nirman संस्कृत में प्रश्न निर्माण

संस्कृत में प्रश्न निर्माण

प्रश्न निर्माण करना बहुत ही सरल है । सिर्फ हमे शब्द रूप का ज्ञान होना आवश्यक है, जिसमें अकारान्त (पुल्लिंग), आकारान्त (स्त्रीलिंग), ईकारांत (स्त्रीलिंग) और नपुंसकलिंग शब्द रूप शामिल है । इसको English में Question formation in Sanskrit कहते है |

एक सामान्य वाक्य को प्रश्नवाचक वाक्य बनाना ही प्रश्न निर्माण कहलाता है अर्थात | जिस वाक्य को प्रश्नवाचक वाक्य बनाया जाता है उसके साथ प्रश्नवाचक (?) चिह्न का प्रयोग करना चाहिए | संस्कृत में प्रश्न निर्माण के लिए दो विषयों का ज्ञान अत्यावश्यक है –

1.प्रश्नवाचक अव्यय पद

2.किम्’ शब्द रूप तीनों लिंगों में ।


निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर अंत में दिए गए है –

निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर अंत मे दिए गए है –
रेखांकितपदानि आधृत्य प्रश्न निर्माणं कुरुत

  1. वसन्ते सरसा: रसाला: लसन्ति ।
  2. सूर्योदयात् पूर्वमेव बालिका तत्रोपस्थिता |
  3. लुब्धया बालिकया लुब्धस्य फलं प्राप्तम् |
  4. खलानाम् मैत्री आरम्भगुर्वी भवति ।
  5. मोदकानि पूजानिमित्तानि रचितानि आसन्
  6. जन्तो: मूढ़ता निद्रा भवति ।
  7. सज्जना: एव शशिकिरणसमा: भवन्ति | CBSE 2011
  8. गुरुवचनम् उपादेयं भवति | CBSE 2011
  9. प्राणिनाम् मूढ़ता निद्रा कथिता | CBSE 2011
  10. साधुजनमैत्री सुखदा भवति | CBSE 2012
  11. विनितस्य जनस्य वशे प्राणिगण: | CBSE 2012
  12. लोके चक्षुष: दानं दुष्करं अस्ति | CBSE 2014
  13. अनृतं वदसि चेत् काक: दशेत् | CBSE 2014
  14. सर्वेषाम् एव महत्त्वं विद्यते | CBSE 2015
  15. मम पिच्छानाम् अपूर्वं सौन्दर्यम् | CBSE 2016
  16. छात्रा: उद्याने क्रीडन्ति ।
  17. अस्माकं विद्यालये एक सहस्र पञ्च शतं छात्राः सन्ति।
  18. कश्चित् कृषकः बलिवर्दाभ्यां क्षेत्रकर्षणम् कुर्वन्नासित्|
  19. दशरथस्य चत्वारः पुत्राः आसन् |
  20. भारतस्य प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसादः आसीत् ।

उत्तराणि –

1.के, 2. कस्मात्, 3. कया, 4. केषाम्, 5. कानि,

6.का, 7. के, 8. किम्, 9. केषां, 10. का,
11.कस्य, 12. कस्य, 13. क:, 14. केषाम्, 15. कासाम्,

  1. कुत्र, 17. कति, 18. काभ्याम्, 19. कति, 20. कः ।

Question formation in Sanskrit

1.प्रश्नवाचक अव्यय पद –

अव्यय उन शब्दों को कहा जाता है जिनके रूप कभी नहीं बदलते हैं | अव्ययों में कुछ अव्यय ऐसे |
होते हैं जिनसे सामान्य वाक्य को प्रश्नवाचक वाक्य में बदला जाता है | प्रश्नवाचक अव्ययों का प्रयोग एक निश्चित स्थान पर किया जाता है ।

संस्कृत में प्रश्नवाचक शब्द कौन कौन से हैं ?

  1. कुत्र = कहाँ
  2. कदा = कब
  3. कति = कितने
  4. कथम् = कैसे
  5. *कुत:= कहाँ से

इन अव्यय पदो के साथ विभक्ति का भी प्रयोग कर सकते हैं । “कथम्” की जगह तृतीया विभक्ति और “कुतः” की जगह पंचमी विभक्ति का प्रयोग किया जा सकता है।

किम् (कौन) पुल्लिंग

विभक्ति एकवचनम् द्विवचनम् बहुवचनम्

विभक्तिएकवचनम्द्विवचनबहुवचन
प्रथमाक:कौके

द्वितीया

कम्

कौ

कान्
तृतीया
केन

काभ्याम्
कै:
चतुर्थी
कस्मै
काभ्याम्
केभ्य:
पञ्चमी
कस्मात्
काभ्याम्
केभ्य:
षष्ठी
कस्य
कयो:केषाम्
सप्तमीकस्मिन्कयो:केषु

किम् ”कौन” स्त्रीलिंग

विभक्तिएकवचनम्द्विवचनम्बहुवचनम्
प्रथमा काकेका:
द्वितीया
काम्

के

का:
तृतीयाकया व
काभ्याम्
काभि:
चथुर्थीकस्यै क
काभ्याम्
काभ्यः
पञ्चमीकस्या:
काभ्याम्
काभ्यः
षष्ठीकस्याः
कयो:
कासाम्
सप्तमीकस्याम् कयो:कासु

किम् कौन नपुसकलिंग

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमाकिम्केकानि
द्वितीया

किम्

के

कानि
तृतीयाकेन
काभ्याम्
कै:
चतुर्थीकस्मै
काभ्याम्
केभ्य:
पञ्चमीकस्मात्
काभ्याम्
केभ्य:
षष्ठीकस्य
कयो:
केषाम्
सप्तमीकस्मिन्कयो: केषु

1.कुत्र = कहाँ

यदि स्थान वाचक शब्द हो तो वहाँ पर “कुत्र”
अव्यय का प्रयोग जाता है | जैसे

(क) छात्र : विद्यालयं गच्छति ।
छात्रः कुत्र गच्छति ?
(ख) सिंह: वने निवसति ।
सिंह: कुत्र निवसति ?
(ग) वानराः वृक्षे कुर्दन्ति |

वानराः कुत्र कुर्दन्ति ?

2.कदा = कब

समय वाचक शब्द हो तो “कदा ” अव्यय पद का प्रयोग किया जाता है । जैसे-

(क) रमेशः प्रातःकाले भ्रमति ।
रमेशः कदा भ्रमति ?
(ख) गीता सप्तवादने विद्यालयं गच्छति |
गीता कदा विद्यालयं गच्छति ?
(ग) कविता रात्रौ भोजनं करोति ।
कविता कदा भोजनं करोति ?

3.कति = कितने

“कति” शब्द का प्रयोग “संख्यावाचक” शब्दों के साथ किया जाता है । जैसे –

(क) कक्षायां त्रिंशत् छात्राः सन्ति |
कक्षायां कति छात्राः सन्ति ?
(ख) गृहे पंच जनाः सन्ति |
गृहे कति जनाः सन्ति ?
(ग) वने दश सिंहाः सन्ति ।
वने कति सिंहाः सन्ति ?

प्रश्न निर्माण “किम् शब्द” के शब्द रूप से होता है अतः हमें “किम् शब्द” के शब्द रूप याद होना
बहुत ही आवश्यक है ।

4.किम् = क्या

(क) बालकः फलं खादति ।
बालकः किं खादति ?
(ख) लता लेखं लिखति ।
लता किं लिखति ?
(ग) बालिका दुग्धं पिबति |
बालिका किं पिबति ?

Leave a Comment