Sarvnam,सर्वनाम अध्याय 8 -(pronoun)

परिभाषा

संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले शब्द सर्वनाम कहलाते हैं। जैसे – मैं, तुम, हम, वह, उन्होंने, वे आदि।

  1. यह रावण का चित्र है।
  2. वह लंका का राजा था।
  3. उसने सीता का अपहरण किया।
  4. रामचंद्र जी ने उसका वध किया।

उपर्युक्त वाक्यों में ‘रावण’ संज्ञा के स्थान पर वह, उसने, उसका आदि शब्द प्रयुक्त किए गए हैं। ये सभी शब्द सर्वनाम शब्द कहलाते हैं

सर्वनाम के प्रकार

पुरुषवाचक सर्वनाम –

जिन सर्वनामों से बोलने वाले, सुनने वाले या जिसके बारे में बात कर रहे हों, का ज्ञान हो, वे पुरुषवाचक सर्वनाम कहलाते हैं। इस आधार पर इसके तीन भेद होते हैं-

(अ) उत्तम पुरुषवाचक

बात करने वाला जिस सर्वनाम शब्दों का प्रयोग अपने लिए करता है, उन शब्दों को उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं; जैसे- मैं, हम, मुझे, हमें आदि।

(ब) मध्यम पुरुषवाचक –

जिससे बात कही जाती है, उसके लिए प्रयुक्त होने वाले शब्दों को मध्यम पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं, जैसे- तू, तुम, तुझे, तुम्हें, आप आदि ।

(स) अन्य पुरुषवाचक

जिसके विषय में बात कही जाती है, उसे अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं; जैसे- वह, वे, यह, ये आदि । ।

2. निश्चयवाचक सर्वनाम

जो सर्वनाम शब्द निश्चित वस्तु या व्यक्ति का बोध कराते हैं,निश्चयवाचक सर्वनाम कहलाते हैं; जैसे वह गाय है। वे आ रहे हैं। ये सब लिख रहे हैं।

उक्त वाक्यों में ‘वह, वे, ये’ निश्चयवाचक सर्वनाम हैं।

3.अनिश्चयवाचक सर्वनाम

जिस सर्वनाम शब्दों से किसी निश्चिय वस्तु या व्यक्ति का बोध नहीं होता, वे शब्द अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहलाते हैं; जैसे- ये कितने सेब हैं?
कौन गा रहा है ?
ये किसकी किताबें हैं ?

उक्त प्रथम वाक्य में कौन दूसरे वाक्य में कितना तथा तीसरे वाक्य में किसकी से किसी निश्चयवाचक शब्द का बोध नहीं हो रहा है; अतः ये अनिश्चयवाचक सर्वनाम है।

4.संबंधवाचक सर्वनाम –

वे शब्द जो किसी अन्य उपवाक्य में प्रयोग होते हैं और समय संज्ञा या सर्वनाम से संबंध दर्शाते हैं, संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं;

जैसे-
जिसकी लाठी उसकी भैंस ।
जैसा करोगे, वैसा भरोगे ।
जैसे को तैसा ।

उक्त तीनों वाक्यों में ‘जैसा’, ‘वैसा’, ‘जिसकी’, ‘उसकी’, ‘जैसे’, ‘तैसा’ आदि शब्द एक-दूसरे से संबंध का बोध करा रहे हैं। अतः ये शब्द संबंधवाचक सर्वनाम हैं।

5.प्रश्नवाचक सर्वनाम

जो शब्द प्रश्न पूछने अथवा किसी वस्तु को जानने के लिए प्रयोग किए जाते हैं, प्रश्नवाचक सर्वनाम कहलाते हैं;

जैसे-
कौन पढ़ रहा है?
वह कहाँ रहता है?
किसने काम नहीं किया?

उक्त वाक्यों में ‘कौन’, ‘कहाँ’, ‘किसने’ शब्द प्रश्नों का बोध करा रहे हैं; अतः ये शब्द प्रश्नवाचक सर्वनाम हैं।

6.निजवाचक सर्वनाम

वे शब्द जो अपनापन अथवा निजीपन का बोध कराते हैं, निजवाचक सर्वनाम कहलाते हैं;

जैसे – मैं अपना गृहकार्य पूरा करूंगा। अपनी बहन के साथ जाओ। अपना काम करो।

उक्त वाक्यों में ‘अपना’, ‘अपनी’ शब्दों से अपनेपन का बोध हो रहा है; अतः ये शब्द निजवाचक सर्वनाम हैं।

याद रखने योग्य बातें

  • संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले शब्द सर्वनाम कहलाते हैं।
  • सर्वनाम के छः भेद होते हैं-1. पुरुषवाचक, 2. निश्चयवाचक, 3 अनिश्चयवाचक, 4. संबंधवाचक, 5. प्रश्नवाचक, 6. निजवाचक |
  • पुरुषवाचक सर्वनाम के तीन भेद होते हैं।

अभ्यास प्रश्न

(क) निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए-

1.सर्वनाम किसे कहते हैं? उदाहरण दीजिए।

संज्ञा के स्थान पर लगने होने वाले शब्द को संज्ञा कहते हैं जैसे यह रावण का चित्र है |

2.पुरुषवाचक सर्वनाम की परिभाषा लिखिए। इसके कितने भेद होते हैं?

जींस सर्वनाम से बोलने सुनने वाले या जिसके बारे में बात कर रहे हो वह पुरुषवाचक सर्वनाम कहलाते हैं पुरुषवाचक सर्वनाम के तीन भेद होते हैं|

3. निश्चयवाचक और अनिश्चयवाचक सर्वनाम में क्या अंतर हैं?

जो शब्द किसी निश्चित वस्तु का बोध कराते हैं वह निश्चयवाचक और जो शब्द किसी निश्चित शब्द व्यक्ति का बोध नहीं करते उसे अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं|


(ख) रिक्त स्थानों की पूर्ति उचित सर्वनाम शब्द भरकर कीजिए-

  1. वह…………..इनाम देगा।
  2. वह………..नहीं चाहता।
  3. जो गलती करेगा…………..दंड पाएगा।
  4. तुम………….काम करो।

(ग) निम्नलिखित वाक्यों में से सर्वनाम छाँटिए –

  1. जैसी करनी वैसी भरनी।-
  2. मैने उसकी सहायता की।
  3. तुम्हारे हाथ में क्या है?
  4. उसने तुम्हें याद किया था।
  5. मैं आज विद्यालय नहीं जाऊँगा ।

(घ) निम्नलिखित वाक्यों में सर्वनामों को शुद्ध करके वाक्य पुनः लिखिए-

  1. मेरे को दिल्ली जाना है।
  2. मेरे से गाना गाया नहीं जाता।
  3. वह सब कहाँ जा रहे हैं।
  4. हम हमारे लिए मिठाई लाए।
  5. हम हमारे लिए चाय बनाएँगे।

(च) निम्नलिखित वाक्यों में सर्वनामों को रेखांकित करके उनके भेदों का नाम लिखिए-

  1. हम लोग जो खा रहे हैं, वही यह भी खा रहा है। -संबंध वाचक
  2. कोई आकर सड़क के किनारे कुछ रख गया।-अनिश्चयवाचक
  3. मुझे बहुत भूख लगी है। घर में खाने के लिए क्या है?-निजवाचक
  4. कुछ ही देर में वह आ जाएगा और हम भी कहीं चलेंगे।-अनिश्चयवाचक
  5. इसी ने सबसे अधिक गोल किए।-निश्चयवाचक

Leave a Comment